Top मैं हूँ ५ बार बोलो Secrets





जीत की हवस नहीं, किसी पे कोई वश नहीं, क्या ज़िन्दगी है ठोकरों पे मार दो

निकलते वक़्त वो रोटी की डलिया छोड़ आए हैं ।

उस खल जयद्रथ को जगत में मृत्यु ही अब सार है,

हमारे सपनों का मर जाना सबसे खतरनाक वो आँखें होती है.

बांस की खुर्री खाट के ऊपर, हर आहट पर कान धरे

That you should mature, for getting out of the comfort and ease zone, You should be willing to experience awkward and unpleasant accomplishing new issues the initial couple occasions.

A further state which may be even be attained via meditation lets you enter into your theta point out of consciousness enabling you to connect at a deep and most profound degree with Common Consciousness, God, Supply, Common Intelligence, Supreme Energy, and so on.

फटे पुराने इक एलबम, में चंचल लड़की जैसी माँ..  

लाख करे पतझर कोशिश पर उपवन नहीं मरा करता है। लूट लिया माली ने उपवन,

वे शत्रु सत्वर शोक-सागर-मग्न दीखेंगे सभी ।

जो बीत गई सो बात गई. जीवन में एक सितारा था

And however don’t look way too very good, nor discuss much too sensible: If you're able to dream—rather than make desires your master;

लताओं के बने जंगल। भवानी प्रसाद मिश्र

लौट here कर वापस चला जाऊँ, मेरी फ़ितरत नहीं और कोई हमनवा मिल जाये, ये website क़िस्मत नहीं ऐ ग़म-ए-दिल क्या करूँ, ऐ वहशत-ए-दिल क्या करूँ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *